दुनिया का सबसे ऊंचा Tempel Gujarat में बनेगा!

दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा और दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैचू ऑफ यूनिटी के बाद अब Gujarat (गुजरात) में दुनिया का सबसे ऊंचा Tempel (मंदिर) बनने जा रहा है. इसके साथ ही Gujarat (गुजरात) के नाम एक नया रिकॉर्ड जुड़ जाएगा. आइए जानते हैं इस Tempel (मंदिर) की खासियतों के बारे में.

ये मंदिर गुजरात में 100 बीघा जमीन पर बनाया जाएगा. इसकी ऊंचाई 431 (131 मीटर) फीट होगी. ये मंदिर वैष्णोदेवी-जासपुर के पास पाटीदारों की कुलदेवी मां उमिया का होगा. मंदिर के शिलान्यास में तकरीबन दुनियाभर से 2 लाख भक्त मौजूद रहेंगे. इस मंदिर को बनाने में 1 हजार करोड़ का खर्चा आएगा.

कैसा होगा डिजाइन

ये मंदिर जर्मन और भारतीय आर्किटेक्ट ने मिलकर डिजाइन किया है. मंदिर के अंदर के हिस्से के व्यूइंग गैलरी से पूरे अहमदाबाद शहर का नजारा देखा जा सकेगा. यह व्यूइंग गैलरी तकरीबन 82 मीटर ऊंची होगी. मंदिर का गर्भगृह भारतीय संस्कृति के हिसाब से तैयार किया जाएगा और मंदिर के गर्भगृह में मां उमिया की मूर्ति 52 मीटर ऊंचाई पर प्रस्थापित की जाएगी. साथ ही मंदिर में शिवलिंग भी स्थापित किया जाएगा.

दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम

गुजरात के अहमदाबाद में दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम बना है. ये स्टेडियम शहर के मोटेरा इलाके में तैयार हुआ है, जिसका नाम सरदार पटेल गुजरात स्टेडियम रखा गया है. हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ने यहां जनता को संबोधित किया था.

पूरा स्टेस्डियम 63 एकड़ जमीन पर बनाया गया है. एक लाख 10 हजार दर्शकों की क्षमता वाला यह स्टेडियम ऑस्ट्रेलिया के मेलबोर्न क्रिकेट ग्राउंड से भी बड़ा है.

इस स्टेडियम को बनाने में 700 करोड़ रुपये की लागत आई थी. इस स्टेडियम में तीन प्रैक्टिस ग्राउंड्स, क्लब हाउस, ओलम्पिक साइज स्विमिंग पूल और एक इंडोर क्रिकेट एकेडमी भी बनाई गई है.

दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैचू ऑफ यूनिटी

भारत के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा दुनिया की सबसे ऊंची है. इस मूर्ति की ऊंचाई 182 मीटर है. इसे बनाने में भी करीब 3000 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं.

बता दें कि स्टैच्यू ऑफ यूनिटी रिकार्ड समय करीब 44 माह में बनकर तैयार हो गई. आपको बता दें कि 2020-21 के लिए गुजरात सरकार ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के व्यापक विकास के लिए 387 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है.आपको बता दें कि 2020-21 के लिए गुजरात सरकार ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के व्यापक विकास के लिए 387 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है.

<<यह भी पढ़े: राम मंदिर बना सकती है ये कंपनी!>>

Like and Support us on Facebook